पतंजलि चिकित्सालय एवं स्टोर का उद्घाटन करते आरा सेंटर की बी. के. बहनें एवं अन्य।

 

11 अगस्त 2019, गोढ़ना रोड, आरा। सेवाकेंद्र से सटे गोढ़ना रोड में पतंजलि चिकित्सालय एवं स्टोर जो बी. के. भाइयों द्वारा संचालित किया जा रहा है का उद्घाटन सेवाकेंद्र की मुख्य प्रसाशिका बी. के. किरण बहन के कमल हस्तों द्वारा किया गया। साथ में बी. के. रूपा बहन एवं अन्य भाई-बहनें भी उपस्थित रहे।

आरा सेवाकेंद्र की नई शाखा का उद्घाटन।

 

जैन कॉलेज आरा। ब्रह्माकुमारीज़ संस्था के आरा सेवाकेंद्र की नई शाखा का उद्घाटन दिनांक 22 जुलाई 2019 को किया गयाजो ठीक जैन कॉलेज के मेन गेट के पास स्थित है। कार्यक्रम की शुरुआत फीता काटकर एवं दीप जलाकर किया गया। ज्ञान सरोवर, माउंट आबू से पधारे बी. के. विजय भाई ने उपस्थित सभी भाई-बहनों के लिए क्लास भी कराया।

आरा बिहार- नवनिर्मित सेवाकेंद्र का उद्घाटन समारोह एवं चैतन्य झांकी तथा शोभा यात्रा का आयोजन

आरा, बिहार – 30-05-2019, शहर के ब्रह्माकुमारीज़ आश्रम के नवनिर्मित सेवाकेंद्र का उद्घाटन समारोह का आयोजन किया गया। गृह प्रवेश का उद्घाटन मधुबन-माउंट आबू से पधारी पटना सब जोन इंचार्ज बी. के. रुक्मणि दीदी जी के कर कमलों से हुआ। उद्घाटन समारोह के अवसर पर लक्ष्मी-नारायण की चैतन्य झांकी सजाकर रथ द्वारा शोभा यात्रा निकाली गयी। इस शोभा यात्रा के माध्यम से जन जन तक प्रभु सन्देश पहुँचाने की सेवा हुई। कार्यक्रम के पश्चात में दूर-दूर से आयी बी.के. बरिष्ठ बहनों का सम्मान समारोह का आयोजन किया गया।

दशहरा पूजा के अवसर पर बृहद चैतन्य झांकी का आयोजन, हज़ारों आत्माओं को मिला शिव सन्देश

आरा, बिहार- दशहरा पूजा के अवसर पर बृहद चैतन्य झांकी का आयोजन किया गया जहाँ हज़ारों आत्माओं को चैतन्य झांकी के माध्यम से परमात्म अवतरण का सन्देश दिया गया। झांकी के बीच -बीच में बड़े परदे पर वीडियो के माध्यम से भी आत्माओं तक बाबा के सन्देश को पहुँचाने की सेवा हुई। इस झांकी में आरा सेंटर की इंचार्ज बी.के. किरण बहन, बी.के. रूपा बहन एवं अन्य ब्रह्मा कुमार/कुमारी भाई बहनें उपस्थित रहे तथा आरा शहर के कई दिग्गज नेता व अधिकारी भी सरिक हुए।

 

निःशुल्क राजयोग प्रशिक्षण के लिए संपर्क करें

संसार का हर मनुष्य सुख–शांति की तलाश में रोज मंदिर, मस्जिद, चर्च, गुरूद्वारे में गुहार लगा रहा है। पूजा, पाठ, आरती, व्रत, उपवास, तीर्थ आदि धक्के खा खाकर इंसान थक गया है लेकिन सुख शांति से आज भी कोसों दूर है.. बल्कि दुख-अशांति बढ़ती जा रही है, इसका एकमात्र कारण है देह-अभिमान में वृद्धि होना और इन सब समस्याओं का एकमात्र निवारण और सुख-शान्ति का एकमात्र रास्ता स्व (आत्मा) का ज्ञान और परमात्मा का सही पहचान । इसी सत्य ईश्वरीय ज्ञान से और ईश्वर प्रदत्त राजयोग मेडिटेशन से सच्ची सुख, शान्ति का खजाना सहज ही मिल जाता है और सारा जीवन तनाव मुक्त होकर खुशहाल हो जाता है। हमारे यहाँ सेवाकेंद्र पर प्रात: 08 से 10 एवं संध्या 5 से 8 बजे तक राजयोग मेडिटेशन का नि:शुल्क प्रशिक्षण दिया जाता है। आप अपने कीमती समय में से कुछ समय निकाल कर आयें एवं अपना जीवन सुखी और खुशहाल बनायें।